12 साल की लड़की ने Instagram Live के दौरान भाई पे चलाई गोली – फिर खुद किया सुसाइड

जानने के लिए आगे पढ़े…

मिसूरी के सेंट लूइस की रहने वाली लड़की जिसका नाम पैरिस जो कि 12 साल की है और उसका कजिन भाई कोआरोन हार्वी जो कि 14 साल का है। 25 मार्च को एक जन्मदिन की पार्टी में गए।  बच्चों ने तब फैसला किया कि वे दोपहर 2 बजे इंस्टाग्राम पर लाइव (अपने भाई को इंस्टाग्राम लाइव पर शूट करती एक लड़की) करेगें।

बच्चे अक्सर बड़ों की नकल करना पसंद करते हैं। वे अपने साथियों की नज़रों में अधिक स्मार्ट, होशियार दिखना चाहते हैं। टीनएज़ में बच्चों को कूल बनने का चस्का लगा रहता है। लेकिन इन सबके अलावा यह माता-पिता की जिम्मेदारी है कि इस मामले में बच्चों को सही दिशा दिखाएं नहीं तो वे इस energy का गलत जगह इस्तेमाल कर सकते हैं, और बहुत बड़ी गलती कर लेते हैं।

हाल ही में दो अमेरिकी बच्चों के साथ भी ऐसा ही हुआ (एक अमेरिकी लड़की ने इंस्टाग्राम लाइव प्रसारण के दौरान अपने चचेरे भाई को गोली मार दी), लेकिन shocking बात ये है कि कूल‌ बनने के चक्कर में एक गलती हो गई जिसके परिणामस्वरूप उन दोनों की मौत हो गई।

डेली स्टार के अनुसार, पैरिस जो कि 12 साल की है और उसका कजिन भाई कोआरोन हार्वी जो कि 14 साल का है वे सेंट लुइस, मिसूरी में रहते हैं। 25 मार्च को जन्मदिन की पार्टी में शामिल हुए थे। बच्चों ने तब फैसला किया कि वे दोपहर 2 बजे इंस्टाग्राम पर लाइव (एक लड़की अपने भाई को इंस्टाग्राम लाइव पर शूट कर रही है) होंगे। बच्चे चुपके से बाथरूम में चले गए और वहीं एक-दूसरे की शूटिंग करने लगे। पैरिस ने चुपके से एक घर में लगी बंदूक उठा ली और अपने कजिन भाई को गोली मार दी।

बच्ची ने भाई को गोली मारी

कोआरोन की मौके पर ही मौत हो गई। इससे पैरिस इतना घबरा गई कि उसने बंदूक अपनी तरफ तान दी और खुद को गोली मार ली। वहीं उसकी भी मौत हो गई। यह स्पष्ट नहीं है कि बंदूक घर में कैसे‌‌ आई लेकिन घटना ने परिवार को तोड़ दिया। लॉकर मीडिया हाउस से बात करते हुए पुलिस ने कहा कि मामला हत्या या आत्महत्या का है लेकिन परिवार ने इससे साफ इनकार किया।

पुलिस ने हत्या या आत्महत्या का मामला दर्ज किया

बच्ची की मां ने कहा कि आत्महत्या या हत्या जैसी कोई बात नहीं है। पैरिस को बंदूक मिली और उसने दिखाने के लिए वीडियो बनाना शुरू कर दिया। पैरिस की दादी ने वीडियो को लाइव देखा था। उन्होंने यह भी कहा कि वीडियो में हत्या जैसी कोई घटना नहीं थी। यह सिर्फ एक दुर्घटना थी। बच्चों को बंदूक से नहीं खेलना चाहिए था। उन्होंने कहा कि दोनों भाई-बहन एक साथ ही बड़े हुए है। दोनों अक्सर एक दूसरे के घर आते-जाते रहते हैं। हालांकि पुलिस ने अभी तक इस मामले को बंद नहीं किया है और मामले की जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.