इस लड़के ने की 91 साल की औरत से शादी – रातो रात एक ही झटके में बना करोड़पति

जानने के लिए आगे पढ़े…

67 वर्षीय व्यक्ति ने एक वर्षीय महिला से शादी की लेकिन कुछ दिनों बाद महिला की मृत्यु हो गई। आगे क्या हुआ जानकर आप हैरान रह जाएंगे। मामला ब्रिटेन का है। जहां महिला की मौत के बाद लाखों रुपए की संपत्ति पुरुष के नाम हो गई। किसी और के नाम पर करोड़ों की संपत्ति का नुकसान महिला के परिवार के सदस्यों द्वारा ध्यान नहीं दिया गया। क्योंकि परिवार का दावा है कि आदमी ने संपत्ति के नाम पर शादी की।

पारिवारिक आरोप

91 वर्षीय जोआन ब्लास का मार्च 2016 में कैंसर से निदान होने के बाद निधन हो गया।  91 वर्षीय जोआन ने कुछ महीने पहले 67 वर्षीय कोलमैन वोलन से दोबारा शादी की। और उसकी मृत्यु के बाद उसकी इच्छा के अनुसार सारी संपत्ति कोलमैन के पास चली गई। मां की संपत्ति से छीनकर बच्चों ने उसके खिलाफ आवाज उठाई यह दावा करते हुए कि कोलमैन ने संपत्ति के लालच में शादी को कपटपूर्ण बनाया।

कोर्ट ने यह कहा

परिवार ने अदालत में मुकदमा दायर किया लेकिन अदालत को इस बात का कोई सबूत नहीं मिला कि उसके नए पति ने न्याय में बाधा डाली और धोखाधड़ी से शादी की।  लीड्स काउंटी कोर्ट में चार दिवसीय मुकदमे के बाद न्यायाधीश ने कोलमैन का पक्ष लिया। भले ही अदालत ने बच्चों को उनकी मां की $175,000 की संपत्ति का आधा भुगतान करने का आदेश दिया। महिला की बचत।  वहीं दूसरी पत्नी ने एक करोड़ से ज्यादा कीमत का घर खरीदा। जिसमें से आधी बचत भी कोलमैन के पास चली गई।

फर्जी शादी का आरोप

महिला का बेटा, 53 वर्षीय माइकल और 62 वर्षीय बेटी फ्रैंक शादी से अनजान थे।  उन्होंने कहा कि उस व्यक्ति ने लीड्स में एक गुप्त नागरिक विवाह किया था।  संपत्ति व्यक्ति के हाथ में जाने के बाद परिवार ने इस व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। फ्रैंक ने कहा कि उनकी मां, जोन ब्लास को डिमेंशिया था। इसलिए वह सब कुछ भूलने लगे।  ऐसे में उसे यह भी याद नहीं रहा कि वह शख्स कौन था जिसे उसका पति कहा था। मैं फ्रैंक से पूछता था कि उस आदमी का नाम क्या है और वह अपने घर में कैसे रहता है।

व्यक्ति ने सारी संपत्ति अर्जित कर ली।

महिला की मृत्यु के बाद, व्यक्ति का नाम अपने आप उस घर का हिस्सा बन जाता है जिसकी कीमत 1 करोड़ रुपये से अधिक है। बाकी बच्चों के नाम थे। इतना ही नहीं महिला की 35 लाख से अधिक की बचत भी पुरुष तक पहुंच गई। अदालत ने इस मामले को भी खारिज कर दिया क्योंकि कोई सबूत नहीं था।

उन्होंने कहा कि आदमी ने धोखे से महिला से शादी की। आदमी ने खुद महिला के शरीर का अंतिम संस्कार किया और उसे एक अचिह्नित कब्र में दफना दिया। अब फ्रैंक उन लोगों की मदद करता है जिनके लिए उसके परिवार में कोई शिकारी विवाह का शिकार हो गया है यानी धोखे से शादी करना।

Leave a Reply

Your email address will not be published.