इस भूत बंगले की वजह से हुआ था राजेश खन्ना के साथ इतना भयानक हादसा – सच जान उड़े होश

जानने के लिए आगे पढ़े…

बॉलीवुड के नंबर वन स्टार राजेश खन्ना के आज भी किस्से हैं, जिनके किस्से आज भी लोगों की जुबान पर हैं। आज हम आपको राजेश खन्ना से जुड़ा एक किस्सा बताने जा रहे हैं। यह कहानी राजेश खन्ना के बंगले ‘आशीर्वाद’ से जुड़ी थी।  राजेश खन्ना ने यह बंगला दिग्गज सुपरस्टार राजेंद्र कुमार से अपने समय में 3.5 लाख रुपये में खरीदा था। 

कहा जाता है कि इस बंगले को खरीदने से पहले राजेंद्र कुमार इस दो मंजिला बंगले को भूत बंगला कहते थे।  हालांकि मुंबई के कार्टर रोड स्थित इस बंगले में घुसते ही राजेंद्र कुमार की किस्मत बदल गई।

राजेश खन्ना को नई फिल्में मिलने लगीं और उन्होंने बॉक्स ऑफिस पर सनसनी मचा दी।

अभिनेता की लगभग सभी फिल्में बॉक्स ऑफिस पर हफ्तों चलीं।  इस वजह से राजेंद्र कुमार का नाम बदलकर जुबली स्टार कर दिया गया।राजेंद्र कुमार ने इस बंगले का नाम ‘डिंपल’ रखा।  इसी बीच कुछ समय बाद राजेंद्र कुमार ने मुंबई के बाली हिल्स इलाके में एक और बंगला ले लिया। जिसे डिंपल भी कहा जाता था।  ऐसा कहा जाता है कि एक बार काका को यह खबर मिली कि राजेंद्र कुमार कार्टर रोड पर बंगला बेच रहे हैं। तो उन्होंने इसे खरीदने के लिए काफी कोशिश की।

बॉलीवुड के नंबर वन स्टार राजेश खन्ना के आज भी किस्से हैं। जिनके किस्से आज भी लोगों की जुबान पर हैं।आज हम आपको राजेश खन्ना से जुड़ा एक किस्सा बताने जा रहे हैं। यह कहानी राजेश खन्ना के बंगले ‘आशीर्वाद’ से जुड़ी थी। राजेश खन्ना ने यह बंगला दिग्गज सुपरस्टार राजेंद्र कुमार से अपने समय में 3.5 लाख रुपये में खरीदा था।  कहा जाता है कि इस बंगले को खरीदने से पहले राजेंद्र कुमार इस दो मंजिला बंगले को भूत बंगला कहते थे।  हालांकि मुंबई के कार्टर रोड स्थित इस बंगले में घुसते ही राजेंद्र कुमार की किस्मत बदल गई।

अभिनेता की लगभग सभी फिल्में बॉक्स ऑफिस पर हफ्तों चलीं।  इस वजह से राजेंद्र कुमार का नाम बदलकर जुबली स्टार कर दिया गया।राजेंद्र कुमार ने इस बंगले का नाम ‘डिंपल’ रखा।  इसी बीच कुछ समय बाद राजेंद्र कुमार ने मुंबई के बाली हिल्स इलाके में एक और बंगला ले लिया। जिसे डिंपल भी कहा जाता था।  ऐसा कहा जाता है कि एक बार काका को यह खबर मिली कि राजेंद्र कुमार कार्टर रोड पर बंगला बेच रहे हैं। तो उन्होंने इसे खरीदने के लिए काफी कोशिश की।

दरअसल, खुद राजेश खन्ना भी चमत्कारों में यकीन रखते थे और इसीलिए उन्होंने इस बंगले को खरीदने की जिद की।  हालांकि राजेश खन्ना को वह मिला जिसकी उन्हें उम्मीद थी और कहा जाता है कि एक बार काका को खबर मिली कि कार्टर की सड़क पर राजेंद्र कुमार बंगला बेच रहे हैं। उन्होंने इसे खरीदने की पूरी कोशिश की।

इस बंगले में पहुंचते ही राजेश खन्ना की किस्मत में सुधार आया और वे देश के पहले सुपरस्टार बने।  राजेश खन्ना ने इस बंगले को ‘आशीर्वाद’ कहा था। हालांकि यह भी सच है कि इसी बंगले में राजेश खन्ना का सबसे खराब स्टेज भी बीता था। आपको बता दें कि 2012 में राजेश खन्ना ने कैंसर से जूझते हुए इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.