मांगलिक दोष के कारण टीचर ने 13 साल के नाबालिग लड़के से करवाई शादी

जानने के लिए आगे पढ़े…

आप सभी ने महिलाओं के खिलाफ होने वाले अत्याचार और दुर्व्यवहार की कहानियां तो सुनी ही होंगी।  आपने खबर पर सुना होगा कि अगर आपकी जबरन किसी लड़की से शादी की गई है, तो नाबालिग के साथ अन्याय किया गया है।  लेकिन आज हम आपको एक कहानी सुनाएंगे।  एक ऐसी खबर है जो आपको भी हैरान कर देगी।

टीचर ने नाबालिग लड़के से जबरन की शादी

इस खबर के मुताबिक यहां किसी महिला के साथ रेप नहीं हुआ है।  यहां एक महिला है जिसने एक नाबालिग लड़के को प्रताड़ित किया।  जानकारी के मुताबिक यह मामला पंजाब के जालंधर का है।  यहां एक महिला ने 13 साल के लड़के से जबरन शादी कर ली। महिला पेशे से शिक्षिका बताई जा रही है और उसने अपनी छात्रा के साथ ऐसा किया।  कहा जाता है कि इसका कारण अंधविश्वास है।  दरअसल, मामला जालंधर के बुआखल जिले का है।  यहां इस शिक्षक ने जबरन एक नाबालिग से शादी कर ली क्योंकि अंधविश्वास के कारण शादी में देरी हुई।

मांगलिक दोष के कारण जबरन शादी

आरोपी महिला को यह कदम उठाने के लिए मांगलिक दोष था। उसे लगा कि ऐसा करने से उसका मंगल दोष दूर हो जाएगा।  लेकिन मामले का खुलासा होने के बाद पीड़ित परिवार ने शिक्षक के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज कराई। अभी तक मिली जानकारी के अनुसार आरोपी महिला गांव के एक स्कूल में शिक्षिका का काम करती है। यहां उन्होंने अपने एक कम उम्र के छात्र को शिक्षा के लिए घर पर फुसलाया।  फिर 6 दिन के लिए जबरन उसे अपने घर में बंद कर लिया।  फिर उसने अपने अपराध से बचने के लिए उससे शादी की।

छात्र की गरीबी का लाभ उठाया

प्रभावित छात्र गरीब परिवार के थे।  ऐसे में उसके लिए बच्चे को शिक्षा ग्रहण करने के लिए भेजना संभव नहीं था इसलिए महिला ने छात्रा का अपमान कर इसका फायदा उठाया।  प्रतिवादी ने छात्र के माता-पिता से कहा कि अगर आप अपने बेटे को कुछ दिनों के लिए मेरे साथ छोड़ देंगे तो मैं उसे बता दूंगा।  इसके लिए बच्चे के परिजन तैयार थे।  तब महिला ने छात्रा को अपने घर बुलाया और जबरन शादी कर ली।  इस शादी में महिला ने हल्दी मेंहदी की रस्म से लेकर सुहागरात तक की रस्में निभाईं।

शादी के बाद हुए खुद विधवा

फिर शादी के 6 दिन बाद महिला विधवा हो गई।  उन्होंने अपने हाथों से सोहाग के कंगन तोड़ दिए और मंगलवार को सूत्र जारी किया।  इसके बाद महिला ने अपने पति की फर्जी मौत के बारे में अपने रिश्तेदारों को बताकर घर पर शोक सभा का आयोजन किया।  सफेद साड़ी में महिला विधवा की तरह कराहती नजर आई।  इसके बाद महिला ने छात्रा को घर भेज दिया और छात्रा ने अपने परिवार को सारी बात बताई। बाद में आरोपी महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.