बच्चे की चाहत के लिए पति करवाता रहा पत्नी का अपने बड़े भाई से दुष्कर्म

जानने के लिए आगे पढ़े

मध्य प्रदेश के ग्वा लियर में एक शर्म नाक घटना सामने आई है. बेटे की चाह में एक पति ने अपनी पत्नी को अपने बड़े भाई को दे दिया। कहा जाता है कि शादी के दो साल बाद भी इस जोड़े के कोई संतान नहीं थी। बेटे की चाह इस कदर बढ़ गई कि पति ने अपनी पत्नी को अपने बड़े भाई को दे दिया। 

जेठ ने महिला से कथित तौर पर कई सालों तक किया। इस जघन्य कृत्य में पीड़िता के पति के साथ-साथ जेठानी ने भी आरोपी का साथ दिया। इतना सब होने के बाद भी जब महिला गर्भ वती नहीं हुई तो उसे घर से निकाल दिया गया। पीड़िता ने आरोपी पति, साले और जेठानी के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज कराई है। 27 वर्षीय महिला ने ग्वालियर थाने में शिकायत दर्ज कराई है। पीड़िता का दावा है कि वह गोहद भिंड का रहने वाला है। उसकी शादी 2015 में ग्वालियर जिले के बिजौली के एक युवक से हुई थी। उसका पति और देवर ग्वालियर में एक निजी कंपनी में काम करते हैं। 

जेठ ने जेठानी के सामने ही की जबरदस्ती

शादी के बाद वह पति के साथ गोसपुरा में किराए के मकान में रहने चली गई। उसका जेठ भी साथ रहता था। महलिला ने शिकायत में कहा कि शादी के दो साल बाद भी उसे कोई बच्चा नहीं हुआ, उसने अपने पति से डॉक्टर को दिखाने के लिए कहा. लेकिन पति ने डॉक्टर के पास जाने की बजाय उसे टालना शुरू कर दिया। महिला का दावा है कि एक दिन उसके पति ने उसकी पत्नी को उसके जेठ के साथ जाने के लिए मजबूर किया। महिला के मना करने पर 20 जुलाई 2017 की रात जेठ-जेठानी उसके कमरे में पहुंचे और अंदर से दरवाजा बंद कर लिया।

एक बच्चे की चाहत के लिए पत्नी को दे दिया अपने बड़े भाई को

एक बार जेठ ने विवाहिता को अपना शिकार बना लिया। फिर शुरू हुई उसकी शान को चुराने की प्रक्रिया। पति और जेठानी कमरे में रहते थे और जेठानी को शादी शुदा महिला से रेप के लिए राजी करते थे। पीड़िता का पति, देवर और जेठानी अपने बेटे की ओर से तीन साल तक प्रता ड़ित करते रहे। बदनामी के डर से उसने सब कुछ सहा। जब वह तीन साल तक रही तो अक्टूबर 2020 में उसके पति और देवर के बीच विवाद हो गया। इसके बाद पति पत्नी के साथ कानपुर चला गया। महिला का आरोप है कि जेठ ने उसके साथ दुष्क र्म किया। इसके बाद यह सिल सिला शुरू हुआ। पीड़ित का दावा है कि जेठ ने उसके पति और जेठानी के सामने उसके साथ दुष्कर्म किया। तीन साल तक पति, साले और जेठानी ने बेटे की ओर से उसे प्रताड़ित किया। वह कहता है कि बद नामी के डर से उसने सब कुछ सहा। चूंकि उसके कोई बच्चा नहीं था, इसलिए उसके पति ने उसे घर से निकाल दिया और तीन साल तक उसके कोई बच्चा नहीं हुआ। 

बच्चा ना होने पर पत्नी को निकाला घर से

उधर अक्टूबर 2020 में पति और जेठ के बीच झगड़ा हो गया। उसके बाद उसका पति उसे कानपुर ले गया। लेकिन उसके बाद भी उसने उसे प्रता ड़ित करना बंद नहीं किया। एक दिन उसके पति ने उसे घर से निकाल दिया और उसकी कमियों के बारे में बताया। आखिर कार, पत्नी अपनी मां के घर पहुंची और अपने छोटे भाई को अपने साथ हुए अत्या चारों के बारे में बताया। पीड़िता के परिजन बेटी को लेकर थाने पहुंचे और आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कराया. पुलिस ने पति, साले, जेठानी के खिलाफ दुष्कर्म समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर प्रतिवादी की तलाश शुरू की।

महिला ने पति और जेठ जेठानी पर करवाया केस

महिलाओं का उत्पी ड़न यहीं खत्म नहीं हुआ। एक दिन पति ने अपनी पत्नी की खामियों को सामने लाकर घर से निकाल दिया। आखिर कार, पत्नी अपनी मां के घर पहुंची और अपने छोटे भाई को अपने साथ हुए अत्या चारों के बारे में बताया। इसके बाद देवर ने विवा हिता को थाने में प्रोत्सा हित किया और शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने उसके पति जेठ जेठानी के खिलाफ दुष्कर्म समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर प्रतिवादी की तलाश शुरू की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.