सुहागरात मनाने गया था युवक, सुबह पेड़ पर लटकी मिली लाश

जानने के लिए आगे पढ़े…

राजस्थान के डूंगरपुर जिले के चौरासी थाना क्षेत्र के भाना सिमल गांव में शादी के 12 दिन बाद एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली शव घर से 500 मीटर दूर एक पेड़ से लटका मिला। कारणों का खुलासा नहीं किया गया है और पुलिस मामले की जांच कर रही है।  डूंगरपुर जिला थाना पुलिस ने भीमजी गरासिया के 44 अधिकारियों ने बताया कि गेबा बुज मीणा निवासी भनासीमल ने शिकायत दर्ज कराई है।

बताया जाता है कि उनके बेटे मनोज भोज (21) ने शिल्पा से चार मार्च को शादी की थी। सोमवार की रात खाना खाने के बाद पूरा परिवार घर पर ही सो गया। दूसरे कमरे में मनोज का बेटा और पत्नी शिल्पा भी सो रहे थे।  रात में मनोज उठकर चला गया, जिसका परिजनों को पता भी नहीं चला। मंगलवार की सुबह मनोज अपने बिस्तर पर नहीं मिला।  परिजन उसकी तलाश करने लगे।

एसएचओ भीमजी गरासिया ने कहा कि पिता जेबा और उनके परिवार के सदस्य मनोज की तलाश में खेतों में आए थे। मनोज काले दुपट्टे से आम के पेड़ से लटक रहा था।  उसे फांसी दे दी गई है।

हादसे के बाद हमारे आसपास लोग जमा हो गए। जानकारी के मुताबिक, करूदा की आधिकारिक गोपाल मीणा वेबसाइट मौके पर पहुंची। साथ ही उन्हें हादसे की जानकारी मिली। फिर ग्रामीणों की मदद से लाश को रस्सी से नीचे उतारा।

उसके बाद उसे सिमलवाड़ा अस्पताल की मोर्चरी में रखा गया।  पिता जपा बूजे ने अपने बेटे मनोज की आत्महत्या पर संदेह करने से इनकार कर दिया। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। अभी तक आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है। वहीं, पुलिस मामला दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.