बड़ी खबर: शादीशुदा लोगो पर सरकार हुई मेहरबान – हर महिने मिलेंगे 10,000 रुपए

जानने के लिए आगे पढ़े…

क्या आप भी शादीशुदा हैं?यह खबर आपके लिए है क्योंकि सरकार ने शादीशुदा जोड़ों के लिए एक योजना शुरू की है।  ज्वाइन करने के बाद आपको हर महीने 10,000 रुपये तक की पेंशन मिलेगी। सरकार ने यह योजना खासकर कम निवेश वालों के लिए शुरू की है।

हम आपको बता दें कि अगर आप भी इस योजना से जुड़ना चाहते हैं तो आप अटल पेंशन योजना (APY) में पैसा लगा सकते हैं। इस योजना के तहत पति-पत्नी अलग-अलग खाते खोलकर प्रति माह 10,000 रुपये की पेंशन प्राप्त कर सकते हैं।  इस योजना के और भी कई फायदे हैं।  हालांकि मोदी सरकार ने इस योजना की शुरुआत 2015 में की थी। लेकिन अब इसमें कुछ बदलाव किए गए हैं।

अटल पेंशन योजना 2015 में शुरू की गई थी। उस समय, यह उन लोगों के लिए शुरू किया गया था जो अनियमित क्षेत्रों में काम कर रहे थे लेकिन अब 18-40 आयु वर्ग का कोई भी भारतीय नागरिक इस योजना में निवेश कर सकता है और पेंशन प्रणाली का लाभ उठा सकता है। 

जिनका बैंक या डाकघर में खाता है वे इसमें आसानी से निवेश कर सकते हैं।  इस प्रणाली में जमाकर्ताओं को 60 वर्ष की आयु के बाद पेंशन मिलना शुरू हो जाती है।  तो ये योजनाएँ उन लोगों के लिए उपयोगी हैं जो उम्र बढ़ने की चिंता से खुद को मुक्त करना चाहते हैं।

इस योजना के तहत आप न्यूनतम मासिक पेंशन 1,000 रुपये, 2,000 रुपये, 3,000 रुपये और 4,000 रुपये अधिकतम 5,000 रुपये के साथ प्राप्त कर सकते हैं। यह एक सुरक्षित निवेश है यदि आप साइन अप करना चाहते हैं तो आपके पास एक बचत खाता एक आधार नंबर और एक मोबाइल फोन नंबर होना चाहिए।

हम आपको बता दें कि अटल पेंशन योजना में 18 से 40 साल की उम्र के लोग रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।  ऐसा करने के लिए आवेदक का किसी बैंक या डाकघर में बचत खाता होना चाहिए।  साथ ही ध्यान रखें कि आपके पास केवल एक अटल सेवानिवृत्ति खाता हो सकता है।

आप इस योजना के तहत जितनी जल्दी निवेश करेंगे आपकी कमाई उतनी ही अधिक होगी। अगर कोई व्यक्ति 18 साल की उम्र में अटल पेंशन योजना में शामिल होता है तो 60 साल बाद उसे हर महीने 5,000 रुपये की मासिक पेंशन के लिए हर महीने केवल 210 रुपये जमा करने होंगे।

One thought on “बड़ी खबर: शादीशुदा लोगो पर सरकार हुई मेहरबान – हर महिने मिलेंगे 10,000 रुपए

Leave a Reply

Your email address will not be published.