बड़ी खबर: हस्तमैथुन से हुए लड़के को जानलेवा बीमारी – डॉक्टर भी हुए हैरान

जानने के लिए आगे पढ़े

आज कल इनमें से कई घटनाएं सामने आती हैं और हैरान करने वाली हैं। हाल ही में सामने आई घटना स्विट्जरलैंड की है। दरअसल, यहां 20 साल के एक शख्स को मास्टरबेशन करने में दिक्कत हुई, जो की उसके लिए बोहत बोझील रहा। हां, ऐसा इसलिए है क्योंकि उन्हें फेफड़े में दुर्लभ चोट लगी थी और फिर उन्हें एक हफ्ते तक अस्पताल में रहना पड़ा था।

एक लोकप्रिय वेबसाइट ने अपनी एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी है। कहा जाता है कि बिस्तर में हस्तमैथुन करते समय सांस की तकलीफ का अनुभव करने के बाद लड़के ने अचानक सीने में तेज दर्द की शिकायत की। ऐसे में उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया। सक्रिय और दुबला होना अच्छे स्वास्थ्य की कुंजी माना जाता है।

लोगों का मानना ​​है कि एक फिट शरीर वह है जो मोटा नहीं है। हाल के शोध ने इसे गलत साबित किया है। लड़के को जल्द से जल्द हॉस्पिटल ले जाने का इंतजाम किया गया । यहां जांच के दौरान डॉक्टरों ने पाया कि मरीज का चेहरा सूजा हुआ था और सांस लेने और छोड़ने पर कई कर्कश आवाजें सुनाई दे रही थीं।

हॉस्पिटल ले कर आने के बाद उस शकस का इलाज शुरू कर वाया गया । ऐसे में उनकी मेडिकल हिस्ट्री से पता चला कि वह भी अस्थमा के हल्के मरीज हैं। वास्तव में, रोगी की छाती के एक्स-रे से पता चला कि न्यूमोमेडियास्टिनम नामक एक दुर्लभ स्थिति विकसित हो गई थी और उसकी वायु थैली भी क्षतिग्रस्त हो गई थी।

साथ ही उन्हें ऑक्सीजन की हाई डोज की जरूरत थी। ऐसे में जल्द ही उसकी जांच शुरू कर दी गई। आपको बता दें कि न्यूमोमेडियास्टिनम फेफड़ों या अन्नप्रणाली में शारीरिक आघात के कारण हो सकता है। यह अनायास भी उत्पन्न हो सकता है। इस प्रकार की चोट युवा पुरुषों में होने की संभावना अधिक होती है।

हाँ, यह तीव्र अस्थमा के रोगियों में और ज़ोरदार व्यायाम के दौरान भी हो सकता है। हमने उन्हें बताया कि डॉक्टरों ने उस व्यक्ति को निगरानी के लिए आईसीयू में रखा और सीने में दर्द को कम करने के लिए एंटीबायोटिक्स दी। हालांकि, अच्छी खबर यह है कि वह जल्दी ठीक हो गए और चार दिनों के बाद रिहा हो गए।

डॉक्टरी इलाज के बाद थोड़ी ही देर में उसकी हालत में सुधार होता दिख रहा था । इस मामले पर सामने आई रिपोर्ट में डॉक्टरों ने कहा कि न्यूमोमेडियास्टिनम का यह मामला असामान्य था क्योंकि यह चोट हस्तमैथुन से हुई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.