बर्तनो में सांपो का झुण्ड देखकर ग़ाव में बना दहशत का माहौल, लोगो के उड़े होश

जानने के लिए आगे पढ़े

अगर किसी के घर, कस्बे या गांव में सांप मिल जाए तो पूरे इलाके में दहशत फैल जाती है और तरह-तरह के झगड़े होने लगते हैं। कल्पना कीजिए कि उस व्यक्ति का क्या होगा, जिसके घर में घड़े में सांपों का एक बड़ा झुंड मिला होगा। 

अंबेडकर नगर के अनूप प्रताप सिंह की रिपोर्ट।

आपने हॉलीवुड फिल्म एनाकोंडा तो देखी ही होगी। फिल्म के अंत में एक बड़ा स्विमिंग पूल दिखाई देता है, जिसमें सैकड़ों एनाकोंडा एक साथ दिखाई देते हैं। अगर आपको लगता है कि ऐसा सिर्फ फिल्मों में ही हो सकता है तो आप गलत सोच रहे हैं। क्योंकि उनमें से एक वीडियो उत्तर प्रदेश के अंबेडकर नगर में सामने आया था।

यहां एक घर में रखे मिट्टी के घड़े में जहरीले सांपों का झुंड मिलने से इलाके में हड़कंप मच गया। इस मिट्टी के घड़े में झाँककर सांपों को चारों तरफ से अपना फन उठाते हुए देखा जा सकता है। उसका वीडियो नीचे दिखाया गया है।

अंबेडकर नगर जिले के अलापुर तहसील क्षेत्र के मदुआना गांव में एक घर के अंदर रखे मिट्टी के बर्तन में इतनी बड़ी संख्या में सांपों को देखकर हर कोई हैरान है और पूरे गांव में दहशत फैल गई है. यहां पाए जाने वाले सांपों को कोबरा प्रजाति कहा जाता है, जो बेहद जहरीले होते हैं। यहां पाए जाने वाले सांपों की संख्या 90 तक मानी जाती है।

ग्रामीण अब इन सांपों से छुटकारा पाने के लिए सपेरे की तलाश कर रहे हैं। सपेरे की मदद से शहर के आसपास और भी तलाशी ली जाएगी, ताकि जहरीले सांप किसी को नुकसान न पहुंचाएं. वन विभाग को भी सूचना दी गई। दरअसल, गांव के एक घर में एक पुराना टेराकोटा फूलदान रखा हुआ था, इस फूलदान का इस्तेमाल लंबे समय से नहीं किया गया था।

मंगलवार 10 मई को जब जमींदार ने इस मिट्टी के बर्तन का उपयोग करना चाहा और उसे इकट्ठा करने के लिए आगे बढ़ा तो उसके होश उड़ गए। घड़े के अंदर जहरीले सांपों का झुंड था। घर के अंदर कई सांपों के पाए जाने की खबर देश में जंगल की आग की तरह फैल गई है। देखते ही देखते ग्रामीणों की भीड़ लग गई।

यह दृश्य सतही लग सकता है, लेकिन यह बिल्कुल वास्तविक है… सांपों का यह झुंड उत्तर प्रदेश के अंबेडकर नगर जिले के एक गांव के घर में रखे मिट्टी के घड़े में मिला था।

सांपों के झुंड के घर में घुसने के बाद शहर में कई चीजें होती हैं। कुछ इसे प्रकृति का प्रकोप कहते हैं तो कुछ इसे सर्प दोष कहते हैं। गांव में रहने वाले अनिल कुमार ने कहा कि सांप की वजह से वहां दहशत फैल गई और वन विभाग को सूचित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.