खुदाई में मिला गहनों से भरा घड़ा – देखकर मजदूरों के उड़े होश

जानने के लिए आगे पढ़े…

उज्जैन के महिदपुर में मजदूरों ने 100 साल पुराने घर की खुदाई की तो उसमें गहनों से भरे घड़े मिले। सोने-चांदी से भरे घड़े को देखकर मजदूरों के इरादे बदल गए। फिर वह उन्हें उनके मालिक को बताए बिना अपने घर ले गए।

उज्जैन
महिदपुर में 100 साल पुराने घर में खुदाई से मुगल काल के कीमती गहने और सिक्के मिले। महिदपुर के घाटी मोहल्ले में रहने वाले वकील विजेंद्र और सुरेंद्र दुबे के 100 साल पुराने घर को तोड़ कर नया घर बनाया गया था। बुधवार को घर में खुदाई के दौरान मजदूरों को सोने चांदी से भरा घड़ा मिला

जब मजदूरों ने घड़े निकाले तो उन्हे चांदी के गहने के साथ-साथ सोने के गहने भी मिले। खुदाई में शामिल मजदूर अपने साथ गहने और सिक्के ले गए। सूचना मिलने के बाद महिदपुर पुलिस ने देर रात कार्रवाई करते हुए घर में खुदाई कर रहे 3 मजदूरों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने करीब 5 किलो चांदी और 200 ग्राम सोना जब्त करने वाले दो मजदूरों को गिरफ्तार किया है।

मकान मालिक नहीं थे मौजूद

खुदाई के दौरान मालिक मौजूद नहीं था। जिसका फायदा उठाकर मजदूर घड़े अपने साथ ले गए। शाम को खजाने की सूचना मिलने पर मालिक ने पुलिस को सूचना दी। महिदपुर पुलिस ने इस संबंध में कार्रवाई की।

महिदपुर के एसडीएम रामप्रसाद वर्मा ने बताया कि पुलिस ने तीनों मजदूरों के यहां छापेमारी कर उन्हें गिरफ्तार कर उनके घर से गहने जब्त कर लिए है। मुगल काल के सिक्के और प्राचीन आभूषण जो कि 1800 ईस्वी के मुगल काल के हैं अब पुलिस मामले की जांच कर मजदूरों से पूछताछ करेगी और जमीन से निकाली गई खजाने को जब्त करने की कार्रवाई करेगी

इस घर में सोने के साथ और भी बहुत सी चीजें मिली है। बाद में मजदूर सब कुछ लेकर भाग गए थे। इस इसके अलावा खुदाई में जो भी मिला सब पुलिस ने जब्त कर लिया है।

खुदाई के दौरान उन्हें हीरा भी मिला। रतनलाल प्रजापति के एक साथी रघुवीर प्रजापति ने एक सरकारी कार्यालय में एक कीमती पत्थर जमा करने के बाद कहा कि उन्होंने पिछले 15 साल हीरे की तलाश में विभिन्न खदानों में बिताए थे लेकिन कल उनकी किस्मत का खुलासा हुआ।पुलिस ने कहा कि वे और उनके साथी हीरे की नीलामी से प्राप्त आय का उपयोग अपने देश को बेहतर बनाने में और  गरीब बच्चों को शिक्षा प्रदान करने के लिए करेंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published.