राहुल गांधी ने लता जी के निधन पर ट्वीट करके बोली ऐसी बात

जानने के लिए आगे पढ़े…

राष्ट्रीय कार्यालय: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को महान गायिका लता मंगेशकर के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनकी साहसी आवाज कालातीत है और हमेशा उनके प्रशंसकों के दिलों में गूंजती रहेगी।  मंगेशकर का रविवार को मुंबई के एक अस्पताल में निधन हो गया।  92 वर्षीय गायक को कोरोनावायरस का अनुबंधित पाया गया था और बीमारी के हल्के लक्षण थे।  उन्हें 8 जनवरी को प्राचकंडी अस्पताल की गहन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में भर्ती कराया गया था।

मुझे लता मंगेशकर जी के निधन का दुखद समाचार मिला।  यह कई दशकों से भारत में एक प्रिय ध्वनि बनी हुई है।

उनकी सुनहरी आवाज कालातीत है और उनके प्रशंसकों के दिलों में गूंजती रहेगी।

राहुल गन्दी जी ने सोशल मीडिया के ट्विटर के माध्यम से बताते हुए कहा की लता जी की डेथ की खबर सुन कर मन बहोत परेशां हु।  उनकी आवाज भारत के हर इंसान के कानो तक हमेशा अति रहेगी। उन्होंने बताया की इनकी आवाज इतनी ज्यादा अछि है की इनको भारत रतन का भी सन्मान दिया गया है। 

उन्हें संगीत की रानी श्रीमती लता मंगेशकर जी की मृत्यु का दुखद समाचार मिला, जिन्होंने भारतीय संगीत उद्यान में संगीतमय स्वरों को सजाने के लिए चुना।उनके निधन से भारतीय कला जगत को अपूरणीय क्षति हुई है।

भगवान लता जी को अपने चरणों में स्थान दे और परिवार के सदस्यों को इस शोक की घड़ी में दुख सहने का साहस प्रदान करें।
उन्होंने लिखा: “लता मंगेशकर जी की मृत्यु की दुखद खबर, भारतीय संगीत उद्यान में संगीत नोटों को सजाने के लिए चुना गया। उनकी मृत्यु से भारतीय कला जगत को अपूरणीय क्षति हुई। भगवान लता जी पर दया करें उनके पैर और परिवार के सदस्यों को इस शोक की घड़ी में दर्द सहने की हिम्मत दें।” और आखिर में उन्होंने पुराणी राष्ट्रपति इंदिरा गन्दी जी के साथ लता जी की फोटो भी शेयर की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.