व्यापारी के घर पड़ी रेड – पुराने 1000 के नोटों का 8 करोड़ हुआ बरामद, देखे वीडियो

जानने के लिए आगे पढ़े…

रविवार की रात पुलिस ने एक प्राचीन सिक्के की सूचना के आधार पर हरियाणा राज्य के जुंड जिले के बेलोखिदा जिले के हाडवा गांव में छापेमारी की। एएसपी कुलदीप सिंह के नेतृत्व में की गई कार्रवाई के दौरान हॉर्सशू गांव के रहने वाले एक पशु व्यापारी के घर से लाखों रुपये के प्राचीन सिक्के बरामद किए गए।

घर से एक बड़ी रंगीन फोटोकॉपी एक नोट कटर श्वेत पत्र और एक विशेष प्रकार की स्याही की टंकी बरामद की गई। हालांकि पुलिस ने अभी तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है। लेकिन सूत्रों के मुताबिक करीब आठ लाख रुपये के पुराने नोट बरामद कर लिए गए हैं। इस मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू कर दी है।

एएसपी कुलदीप सिंह के मुताबिक रविवार रात पुलिस को सूचना मिली कि हॉर्सशू गांव निवासी संजय के घर में भारी मात्रा में प्राचीन सिक्के रखे हुए हैं। इसके आधार पर पुलिस टीम ने जांच शुरू की। इसके लिए तहसीलदार उप लोकेश कुमार को वैकल्पिक न्यायाधीश नियुक्त किया गया है।

पुलिस ने जांच जज की मौजूदगी में संजय के घर पर छापेमारी की तो तीन बड़े बैग, तीन सूटकेस और एक हजार पुराने बिलों से भरे दो सूटकेस मिले। इसके अलावा, पुलिस ने संजय के घर से एक बड़े रंग का कापियर, नोट कटर, श्वेत पत्र के रोल और बक्से पर नोट छापने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली स्याही भी बरामद की है।

इसी मामले में पुलिस ने गांव जयसिंहपुरा निवासी नवदीप, गांव डोडाना निवासी मास्किन, असंद निवासी भारत भूषण को भी गिरफ्तार किया है।  एएसपी कुलदीप सिंह के मुताबिक संजय समेत अन्य लोग भी मवेशी डीलर हैं। रुपये गिनने के लिए बेलोखिदा थाने में मतगणना मशीन मंगवाई गई ताकि मतगणना की जा सके।

पुराने सिक्कों को रखने का क्या उद्देश्य है और श्वेत पत्र और स्याही के रोल को घर में रंगीन प्रिंटर से दूर क्यों रखा जाता है? बेलजेदा थाना पुलिस इन सभी पहलुओं की जांच कर रही है।  हालांकि पुलिस ने अभी बरामद सिक्के की राशि का खुलासा नहीं किया है।

कार्यक्रम निदेशक कुलदीप सिंह ने बताया कि सूचना पर कार्रवाई करते हुए हॉर्सशू गांव स्थित घर पर छापेमारी की गयी। वहां से एक करोड़ रुपए का पुराना सिक्का बरामद हुआ। गिनती जारी है। बंदियों से पूछताछ की जा रही है।  इस संख्या के प्राचीन सिक्कों को रखने के उद्देश्य पर सवाल उठाने के बाद तक इसका खुलासा नहीं किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.