गले में खराश मिटाने के लिए पिया गर्म पानी, फिर जो हुआ देख डाक्टर के पैरों तले से खिसकी जमीन

जानने के लिए आगे पढ़े…

वर्तमान में बीमारियां कोई आयु वर्ग नहीं छोड़ती है।कम उम्र में ही लोग कई खतरनाक बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। अब, जॉर्जीना दूसरों से कहती है कि शरीर में किसी भी समस्या या संकट को नज़रअंदाज़ न करें। जब जॉर्जीना अपना मुंह नहीं खोल पाई। तो उसने डॉक्टर के पास जाने का फैसला किया।

जॉर्जीना को यह भी नहीं पता था कि इतनी कम उम्र में उन्हें कैंसर जैसी बीमारी हो गई है

जिन्हें कोई नहीं समझ पाता।दरअसल अब लोगों की लाइफस्टाइल काफी बदल चुकी है।जीवनशैली में आए इस बदलाव का नतीजा यह होता है कि लोगों को जल्दी मौत का भी सामना करना पड़ता है।इंग्लैंड की रहने वाली 24 साल की जॉर्जीना को यह भी नहीं पता था कि इतनी कम उम्र में उन्हें कैंसर जैसी बीमारी हो गई है।जब तक उसे पता चला तब तक मामला काबू से बाहर हो चुका था।

जॉर्जीना को लंबे समय से गले में खराश की समस्या थी

जॉर्जीना को लंबे समय से गले में खराश की समस्या थी।वह एंटीबायोटिक्स ले रही थी और उन्हें टॉन्सिल की तरह मानती थी। इसके अलावा,वह गर्म पानी से गरारे करके अपने गले को शांत करने की कोशिश कर रहा था।लेकिन उसे इस बात का अंदाजा नहीं था कि चीजें इतनी खराब हो गई हैं। जब वह खाने के लिए अपना मुंह भी नहीं खोल सका तो उसने डॉक्टर को देखने का फैसला किया।जो जानकारी मिली उससे जॉर्जीना के पैरों तले जमीन खिसक गई।

मुझे संक्रमण है जॉर्जीना लंबे समय से टॉन्सिल की समस्या से जूझ रही हैं। इस वजह से कई बार उनके गले में खराश हुई।साथ ही इस बार भी,जब उनका गला खराब था। जॉर्जीना ने इसे टॉन्सिल समझ लिया।  एंटीबायोटिक दवाओं के साथ इसका इलाज करने का प्रयास करें। गर्म पानी से गरारे भी किए जाते हैं। लेकिन इस बार हालात सुधरने की बजाय और बिगड़ गए।

चेकअप के बाद निकला ब्लड कैंसर

डॉक्टर्स उसे चेक-अप के लिए जॉर्जिया के ईस्ट सरे अस्पताल ले गए।  यहां उनके कुछ परीक्षण दिए गए हैं जिनमें उन्हें मायलोइड ल्यूकेमिया (एपीएमएल) का पता चला था।  जॉर्जीना के पिता की भी कैंसर से मृत्यु हो गई।  उसकी वजह से उसका तुरंत इलाज शुरू हो गया।  जॉर्जीना की अब आठ राउंड कीमोथैरेपी हो चुकी है।  उसकी हालत काफी बेहतर है।  जॉर्जीना को समय पर कैंसर का पता चला, जिसके कारण उनका दमन हुआ। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.