दुनिया का एक ऐसा मंदिर, जहां दिन में कई बार रूप बदलती है मां की मूर्ति

जानने के लिए आगे पढिए

हमारे देश में हजारों मंदिर पाए जाते हैं। ये सभी मंदिर प्राचीन काल के हैं और इनमें से कई को रहस्यमयी मंदिर माना जाता है। आज हम उन मंदिरों में से एक के बारे में बात करेंगे जो रहस्यमयी माने जाते हैं। ऐसा माना जाता है कि इस मंदिर की मूर्ति दिन में कई बार रंग बदलती है। इस मंदिर का नाम धारा देवी मंदिर है।

दरअसल, उत्तराखंड में श्रीनगर से करीब 14 किलोमीटर दूर स्थित इस मंदिर में आए दिन कोई न कोई चमत्कार देखने को मिलता है। इस चमत्कार को देखकर लोग हैरान हैं। दरअसल, इस मंदिर में मौजूद मां की मूर्ति दिन में तीन बार आकार बदलती है।

यह मूर्ति सुबह एक लड़की के रूप में प्रकट होती है और दोपहर में एक लड़की बन जाती है। दोपहर के समय इस मंदिर में मौजूद मूर्ति एक बूढ़ी औरत का रूप धारण कर लेती है। इस तरह यहां इस मंदिर में मूर्ति 3 बार अपना रूप बदलती है। जिसके कारण उत्तराखंड मे स्थित धारा देवी का यह साधारण मंदिर विश्व में बहुत प्रसिद्ध है। 

यह नजारा वाकई अद्भुत है। एक पौराणिक कथा के अनुसार, यह मंदिर कभी तेज बाढ़ में बह गया था। वहीं, उनके अंदर की मां की मूर्ति को भी घसीटकर धारो गांव के पास एक चट्टान से टकराकर रोक दिया गया. ऐसा कहा जाता है कि उस मूर्ति से एक दिव्य आवाज आई, जिसने ग्रामीणों को मूर्ति को वहां स्थापित करने का निर्देश दिया।

इसके बाद गांव वालों ने मिल कर वहां मां का मंदिर बनवाया। पुजारियों के अनुसार मंदिर में द्वापर काल से ही मां धारी की मूर्ति स्थापित है। इस मंदिर को लेकर समाज के लोगों की काफी मान्यता है।

ऐसा माना जाता है कि साल 2013 में मां धारी मंदिर को गिरा दिया गया था और उसकी मूर्ति को उसके मूल स्थान से हटा दिया गया था, इसलिए उस वर्ष उत्तराखंड में भीषण बाढ़ आई थी, जिसमें हजारों लोगों की मौत हो गई थी। माना जाता है कि धारा देवी की मूर्ति को 16 जून, 2013 की दोपहर को हटा दिया गया था और कुछ घंटों बाद राज्य आपदा की चपेट में आ गया था। बाद में उसी स्थान पर फिर से मंदिर का निर्माण किया गया। धारा देवी का मंदिर आज भी उत्तराखंड में अपने पौराणिक स्थान पर मौजूद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.