बोरी में 2.5 लाख के सिक्के लेकर बाइक खरीदने गया लड़का – गिनने में लगे 10 घण्टे

जानने के लिए आगे पढ़े…

बटुए में 200-300 कूलर ही रखे जाएं तो बहुत भारी पड़ जाता है। लेकिन एक व्यक्ति ने कुल 2.6 लाख रुपए जमा किए हैं और यह भी 1-1 रुपए का ही है।  तमिलनाडु के रहने वाले वी भूपति ने एक खास मकसद से इन कूलरों को इकट्ठा किया और जब वह बाइक के शोरूम में पहुंचे (उस आदमी ने बाइक खरीदने के लिए 1 रुपये के सिक्के एकत्र किए) तो शोरूम के कर्मचारी बेहोश हो गए।

हादसा तमिलनाडु का है और ये शख्स सेलम के भूपति में रहता है। एएनआई के मुताबिक, इस शख्स ने पिछले 3 साल में प्रति घर 1 रुपए के सिक्के जमा किए हैं।  वह उस पैसे से अपनी सपनों की बाइक खरीदना चाहता था।  ऐसे में जब उसे पर्याप्त पैसे मिले तो उसने उसे ट्रक में लाद दिया और बाइक शोरूम में आ गया और वहां से वापस अपनी पसंदीदा बाइक की सवारी की।

एक रुपये के सिक्के से खरीदी मोटरसाइकिल

तमिलनाडु के मूल निवासी वी भूपति ने 3 साल पहले अपनी ड्रीम बाइक बजाज डोमिनार 400 खरीदने के लिए पैसे जुटाना शुरू किया था। मजेदार बात यह है कि इस पैसे को बैंक नोटों या बैंकों में जमा करने के बजाय उन्होंने प्रत्येक रुपये के सिक्के जमा किए। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वह बाइक खरीदने के लिए एक ट्रक में सिक्का लेकर गया था। उन्होंने इन सिक्कों को होटलों, मंदिरों और चाय के कमरों से एकत्र किया और उनका कुल वजन 1.2 टन था। रिपोर्ट के मुताबिक मैनेजर ने शुरू में इसे लेने से इनकार कर दिया। लेकिन बाद में मान गए। कर्मचारियों को कुल राशि की गणना करने में 10 घंटे लगे।

इंटरनेट पर लोगों द्वारा किए गए मजेदार कमेंट्स।

इस घटना से जुड़ी तस्वीरें ट्विटर पर वायरल हो रही हैं।  सिक्कों के ढेर और उन्हें गिनते हुए कर्मचारियों को देखकर लोगों ने एक से बढ़कर एक मजेदार कमेंट किए।  एक यूजर ने लिखा- अब ट्रांसफर डीलर इन सिक्कों को जमा करवाएगा। एक यूजर ने कहा कि इस आदमी ने सिक्के इकट्ठा करने में कितना समय बर्बाद किया और उसके घर में कितनी जगह होनी चाहिए?  सिक्का संग्रहकर्ता भूपति पेशे से एक कंप्यूटर ऑपरेटर हैं जो एक YouTuber भी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.